Oct 19, 2013

=> 'नन्ही कलम' पर विजिटर्स की संख्या बढी

आप सभी मित्रों को यह जानकर अति प्रसन्नता होगी की मेरे ब्लॉग www.trinathm.blogspot.com की वर्ल्ड वाइड रेटिंग 14,040,676 पर पहुँच गयी है और यूएस में 14,078,676 पर पहुँच चुकी है, 


इस बात की जानकारी गूगल पर trinathm के नाम से सर्च करने पर आसानी से मिल जाएगी। यह सफलता आप सभी के निरंतर सहयोग से प्राप्त हुयी है जिसके लिए मै आप सबका तहेदिल से आभार प्रकट करता हूँ और आशा करता हूँ की इसी तरह आप सब अपना प्रेम और आशीष देते रहेंगे।
मुख्य डिटेल्स निम्नवत हैं-
Monthly Pages Viewed-         1191
Estimated Worth          -    Rs 80520
Number of Pages         -          05
External Links              -           15



आमंत्रण: 
            आप सभी बंधुओं से निवेदन है की नन्ही कलम के लिए अपने लेख सुझाव और रचनाओं को मेरे ई-मेल tnraj007@gmail.com पर भेजने की कृपा करें, पसंद आने पर जनहित में नन्ही कलम के जरिये जन-जन तक पहुंचाने  का प्रयास किया जायेगा। 

Oct 7, 2013

=> मेरठ में महिलाओं के खिलाफ बढता अपराध



सफेद पेश कददावर नेता, खाकी धारी तथा गुण्डे, मवालियों का आपसी तल मेल इस प्रकार स ेचल रहा है की मेरठ में पिछले डेढ़ सालों में कुल 1016 घटनाओं चुकी है। ये घटनाए जनवरी 2012 से जून 2013 तक की है। चार हजार से ज्यादा घटनाएं महिलाओं के साथ हिंसा, छेड़छाड़ आदि की दजौ हुई है। आरटी आई कार्यकर्ता लोकेश खुराना के द्धारा माॅगे गये जवाब में यह खुलासा हुआ है। 
लेडी गैंग खुद छेड़खानी की शिकर:- पीएल जी यानी पुलिस लेडी गैंग एसएसपी द्धारा गठित आॅफिसों में तैनात महिला पुलिस कर्मियों का गु्रप है जो सादी वर्दी में शहर के चैराहो, स्कूल-कालेजों के बाहर तैनात रहती है मगर मजे की बात तो यह है की पीएलजी स्तयम् छेड़खानी का शिकार हो जाती है। और मनचले तेजी से भाग निकलते है।

=> सभ्यता की पराकाष्ठा:

मथुरा जिला में लगे एक सरकारी विज्ञापन के बोर्ड पर सरकार के सभ्य और क्वालिफाइड व्यक्तियों द्वारा लिखित यह स्लोगन सरकार के भावी सोच पर सोचने को मज़बूर कर रहा है। 

=> Happy Navaratri




Oct 6, 2013

=> लड़कियों ने फिर मारी बाज़ी


वाद-विवाद प्रतियोगिता में बच्चों की तन्मयता और बेबाक टिप्पड़ी के सभी हुए कायल
           "राष्ट्रीय एकता में जातिवाद और धर्म बाधक तत्त्व?" विषय पर एक वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन 'सूर्योदय कल्याण समिति' की तरफ से आर्य समाज सदर मेरठ में किया गया? कार्यक्रम की शुरुआत समिति की सचिव सुधा शर्मा ने किया तथा अध्यक्षता लक्ष्मी नारायण वशिष्ठ ने किया। कार्यक्रम में मेरठ के कई स्कूल व विद्यालय के विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया।
           अपनी अच्छी प्रस्तुति और संवाद शैली के कारण आर्य कन्या इंटर कालेज की छात्रा भानु ने प्रथम जबकि बीके माहेश्वरी स्कूल की छात्रा हिना सैनी ने द्वतीय स्थान हासिल किया, इसी क्रम में स्माइल नेशनल महिला महाविद्यालय की छात्रा आफरीन गाँजी ने तृतीय स्थान हासिल किया। इस दौरान प्रतिभागियों के वक्तव्यों का अर्थ यह निकला की जातिवाद और धर्म राष्ट्रीय एकता में बिलकुल भी बाधक नहीं हैं, यदि हर मनुष्य शिक्षित और जागरूक हो जाए। एक छात्रा की टिप्पड़ी, "बेटा अपने बाप से क्यों लड़ता है?" से सभागार में उपस्थित सभी चकित हो गए, जबकि दूसरी छात्रा ने टुकड़ों में बटकर अपनी ऊर्जा को एकत्रित न कर पाने का कारण जाती और धर्म को ही बताया।
मुख्य अतिथि सुशील बंसल ने विजेताओं को प्रतीक चिह्न व प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया।      
          निर्यायक मंडल में वरिष्ठ पत्रकार त्रिनाथ मिश्र, समाजसेविका गरिमा त्यागी और कवि व साहित्यकार हरी नारायण दीक्षित ने अपनी प्रतिभा का परिचय दिया तथा प्रतिभागियों के हर पहलू को  परखते हुए उनके प्रतिभा के साथ निर्णय किया । प्रतिभागियों के हौसला बढाने हेतु अतिथि के रूप में इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता डॉ नील कमल, मेरठ बार एसोसिएसन की संयुक्त मंत्री निशा तायल सहित सैकड़ों की संख्या में बुद्धिजीवियों की उपस्थिति बनी रही।