Sep 23, 2015

=> एसपी क्राइम ने लगाई फटकार

सीओ सिविल लाइन्स और एसओ नौचंदी हुये चुस्त, चार दिन में ही भेज दिया अधूरा जवाब

मेरठ। दैनिक ‘सियासत दूर तक’ के 19 सितम्बर के अंक में छपी खबर ‘एसपी नहीं मानते एसएसपी का आदेश’ को संज्ञान में लेते हुये एसपी क्राइम ने एसओ नौचंदी और सीओ सिविल लाइन्स को सख्त चेतावनी देते हुये जल्द से जल्द जवाब प्रेषित करने का आदेश दिया और साथ ही प्रत्येक आरटीआई पर समयसीमा के अन्दर ही जवाब भेजने की भी बात कही। गारैरतलब है कि पत्रकार त्रिनाथ मिश्र ने आरटीआई के जरिये व्यक्ति विशेष द्वारा डीआईजी को दिये गये प्रार्थनापत्र पर हुई कार्रवाई का व्यौरा मांगा था। जिसका जवाब देने में एसओ नौचंदी आनाकानी करतेे रहे और आरटीआई के नियमों के तहत निर्धारित समयसीमा समाप्त हो गई। इसके बाद त्रिनाथ ने प्रथम अपील करते हुये एसएसपी से सूचना प्रेषत करने की मांग की थी, इसके बाद एसएसपी और एसपी क्राइम ने पत्र लिख सीओ सिविल लाइन्स और एसओ नौचंदी को फौरन जवाब भेजने का आदेश प्रेषित किया। मगर सीओ सिविल लाठन्स और एसपी क्राइम के आदेशों के बावजूद एसओ नौचंदी हरशरण शर्मा सूचना देने में आनाकानी कर रहे थे। यह खबर दैनिक ‘सियासत दूर तक’ ने प्रमुखता से छापी थी जिसे संज्ञान में लेते हुये एसपी क्राइम ने एसओ हरशरण को फटकार लगाई और जवाब भेजने को कहा। इसपर गुस्से से बिलबिलाये थानाध्यक्ष महोदय ने आरटीआई का जवाब बना प्रेषित कर दिया। मगर अभी भी पूरी जानकारी नहीं है। पत्रकार त्रिनाथ मिश्र का कहना है कि वो द्वतीय अपील राज्य सूचना अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करेंगे।

No comments: