'No candle looses its light while lighting up another candle'So Never stop to helping Peoples in your life.

test

Post Top Ad

https://2.bp.blogspot.com/-dN9Drvus_i0/XJXz9DsZ8dI/AAAAAAAAP3Q/UQ9BfKgC_FcbnNNrfWxVJ-D4HqHTHpUAgCLcBGAs/s1600/banner-twitter.jpg

Jan 5, 2016

=> ‘तेवर’ और ‘तल्खी’ का मिला जुला रूप: परविन्दर सिंह "ईशू"

समाज को युवाओं की जरूरत है, उत्थान के लिये सही दिशा और स्पष्ट दृष्टिकोण का होना बहुत जरूरी है। परविंदर सिंह ईशू राजनीति से जुड़ी एक ऐसी शख्सियत है जिसने एक जज्बे के साथ राजनीति की ओर रूख किया। विरासत में राजनीति नहीं मिली तो अपनी जमीन तैयार की और जुट गये युवा भारत के निर्माण में। समाजवादी पार्टी में अपनी पैनी दृष्टि के साथ युवा शक्ति को एकत्र कर सार्थक कार्यों में लगे एमडीए बोर्ड के इस तेज-तर्रार सदस्य से दैनिक सियासत की टीम ने की खास मुलाकात, आइये पढ़ते हैं-

एडीए बोर्ड मेरठ के सदष्य एवं समाजवादी पार्टी की
मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड के
मेरठ महानगर अध्यक्ष परविंदर सिंह "ईशू"
परविंदर सिंह ईशू राजनीति से जुड़ी एक ऐसी शख्सियत है जिसने एक जज्बे के साथ राजनीति की ओर रूख किया। राजनीति उसे विरासत में नहीं मिली लेकिन यह भरोसा जरूर मिला कि राजनीति के माध्यम से जनता की सेवा बेहतर तरीके से की जा सकती है। थापर नगर में रहने वाले परविंदर सिंह इंटरमीडिएट की शिक्षा के दौरान ही राजनीति की ओर कदम बढा चुके थे। पार्टी में पहले उन्हें वार्ड अध्यक्ष नियुक्त किया गया। 2004 में समाजवादी पार्टी की मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड में मात्र छह महीने की अवधि में ही उन्हें प्रोन्नति मिली और उन्हें यूथ ब्रिगेड में महानगर अध्यक्ष नियुक्त कर दिया गया। संगठन में उनके कामकाज के तरीकों को देख सपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने उन्हें कई जिम्मेदारियां सौंपी जिसमें वह खरे उतरे। यह एक मुख्य कारण है कि वह ब्रिगेड में तीसरी बार महानगर अध्यक्ष पद पर काबिज हैं। वह बताते हैं कि उनकी राजनीति का आधार आमजन की सेवा है। कोई भी अपना काम लेकर उनके पास आया तो उन्होंने किसी को खाली हाथ नहीं लौटाया। जनता के कार्य को लेकर संघर्ष से कभी वह पीछे नहीं हटे। जब पार्टी सत्ता में नहीं थी, तो उन्हें जेल भी जाना पडा लेकिन वह हतोत्साहित नहीं हुए। आगे बढते रहे। अब पार्टी की सरकार है तो पाटी्र ने उन्हें मेरठ विकास प्राधिकरण में प्राधिकरण बोर्ड्र का सदस्य नामित किया है। इस मनोनयन से उनका हौसला बढा और अब वह पार्टी के एक कर्मठ सिपाही के रूप में काम कर रहे हैं।
राजनीति से वह क्यों जुडे, केवल सपा में ही उन्हें ऐसा क्या दिखा कि वह सपा से ही जुडे और आज की राजनीति से जुडे तमाम सवालों को लेकर दैनिक सियासत की टीम ने मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड के महानगर अध्यक्ष तथा एमडीए बोर्ड के सदस्य परविंदर सिंह ईशू से बात की। प्रस्तुत है बातचीत के प्रमुख अंशः-
सवालः बतौर युवा, हर एक को अपने करियर की चिंता होती है तो ऐसे में आपके मन में राजनीति से जुडने की बात कैसे आई।
जवाबः छात्र जीवन के दौरान ही सोशल एक्टिविटीज में भाग लेने की आदत मुझमें थी। इससे समाज के प्रतिष्ठित लोगों तथा अधिकारियों से संपर्क हो जाता था और जब किसी गरीब का कोई काम पडता था तो हम किसी न किसी को पकड लेते थे और काम हो जाता था। दो चार काम हुए तो हौसला बढा और हम राजनीतिक गतिविधियों में भी शामिल होने लगे। इसी बीच समाजवादी पार्टी के कुछ पदाधिकारियों से मुलाकात हुई तो मुझे पार्टी में शामिल होने का अवसर मिला।
सवालःसेवा के लिए आपने समाजवादी पार्टी को ही क्यों चुना।
जवाबः समाजवादी पार्टी में गरीब-मजदूर को आगे बढने का अवसर मिलता है। जब मैं प्रारंभिक स्तर पर जुडा तो पार्टी के वरिष्ठजनों ने मुझे प्रोत्साहित किया। मुझे भी प्रोत्साहन मिला और मैं आगे बढता गया। आज भी मेरी आवाज को पार्टी के मंच पर सुनी जाती है। सपा ही ऐसी पार्टी है जो समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर चलती है। सभी वर्गों के लिए पार्टी बिना किसी भेदभाव के काम करती है। किसान, मजदूर, व्यापारी, युवा, बुजुर्ग, महिलाओं सभी के हितों को लेकर पार्टी हमेशा संघर्षरत रही है। पार्टी अब सरकार में है तो सभी के लिए काम कर रही है।
सवालः पार्टी की सरकार ने अब तक क्या प्रमुख कार्य किए, कुछ बता सकेंगे।
जवाबः सरकार में आने के बाद पार्टी ने बहुत सारे जनहित के कार्य किए। किसानों, छात्रों, बेरोजगारों, महिलाओं, यातायात, स्वास्थ्य तथा आवागमन को लेकर ढेरों कार्य किए। किसानों के लिए मुफत सिंचाई योजना, इसमें नलकूपों से किसानों को आवपाशी शुल्क से मुक्त कर दिया गया है। किसानों के लिए ¸ऋण माफी योजना। इसके अंतर्गत सात लाख 57 हजार किसानों का 1779 करोड रूपए का कर्ज माफ किया गया है। कृषक दुर्घटना बीमा योजना, फसल का उचित मूल्य, राजनैतिक पेंशन आदि। इसके अलावा राजनैतिक पेंशन, आवागमन को बेहतर बनाने के लिए मागों का चौडीकरण, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे, डा0 राम मनोहर लोहिया समग्र विकास योजना, जनेश्वर मिश्र ग्राम विकास योजना, छात्रों को निःशुल्क शिक्षा, वूमेन पावर लाईन, एंबुलेंस सेवा, विद्युत आपूर्ति व्यवस्था, छात्रों को निःशुल्क लैपटाप, मेट्रो रेल योजना आदि योजनाएं प्रदेश सरकार चला रही है जिससे सभी वर्ग लाभान्वित हो रहे हैं। मेरठ मेट्रो से यहां की यातायात व्यवस्था सुधारने में काफी मदद मिलेगी।
सवालः पार्टी से जुडे आपको काफी वक्त हो गया, आपके प्रयास से क्या कुछ कार्य जनहित के हुए।
जवाबः महानगर, खासकर कैंट क्षेत्र में सडकें, पार्क, मल्टीलेबल पार्किंग, स्ट्रीट लाइट आदि के काम कराए हैं। इससे लोगों को काफी राहत मिली है। आगे भी इसी तरह के कार्यों पर हमारा ध्यान है।
सवालः मेरठ में और क्या काम कराने की योजना है।
जवाबः मेरठ का ट्रैफिक सिस्टम सुधरना चाहिए। महिलाओं के लिए अलग से और अधिक बसें चलाई जानी चाहिए। इसके अलावा जो सुविधाएं सरकार से मिली हैं, वह लागू होनी चाहिए यानि कि लोगों को उनका पता चले तो आमजन उसका फायदा उठा सकें।
सवालः मेरठ में बढ रहे अपराध पर आप क्या कहना चाहेंगे।
जवाबः अपराध को लेकर मेरा सोचना थोडा अलग है। मेरठ में अपराध बढे नहीं हैं। यह विपक्ष का प्रोपेगंडा है। व्यवस्था की उस वक्त मानी जा सकती है, जब अपराधी पकड में न आए। जितनी भी घटनाएं हुई हैं, पुलिस ने सभी का खुलासा किया है और अपराधी सीखचों के पीछे पहुंचे हैं। ऐसे लोगों को सख्त सजा मिलनी चाहिए। अभी हाल ही में जो कुछ गंभीर घटनाएं हुई हैं। छात्राओं, महिलाओं की सुरक्षा को लेकर उनके परिजन चिंतित हुए हैं। ऐसी घटनाओं को हर हाल में रोका जाना चाहिए लेकिन इसके लिए सामाजिक ताना-बाना सुधारने की जरूरत है जिसमें हम सभी को जुटना पडेगा। मां-बाप को अपने बच्चों पर ध्यान देना होगा कि वह क्या कर रहे हैं, कहां जा रहे हैं, किसके साथ उठ बैठ रहे हैं। समाज में हो रही घटनाओं को रोकने के लिए समाज की भी अहम भूमिका होती है।
सवालः आप राजनीति से जुडे हैें, इसमें राजनीति क्या कर सकती है।
जवाबः लोकतंत्र में विचार व्यक्त करने की आजादी सभी को है। अच्छाई का समर्थन किया जाना चाहिए और बुराई का विरोध किया जाना चाहिए। ऐसा सभी दलों को करना चाहिए। हमारी सरकार अपराधों को रोकने के पूरे प्रयास कर रही है।
सवालः बतौर प्राधिकरण बोर्ड सदस्य आपका कोई उल्लेखनीय कार्य।
जवाबः प्राधिकरण में किसानों के मुआबजे का मुददा काफी दिनों लंबित चला आ रहा था। किसान आंदोलित थे। प्राधिकरण की आवासीय योजनाओं में कार्यठप्प हो गए थे। उसमें हमने किसानों का समर्थन किया। अधिकारियों से वार्ता की। अब किसानों का मुददा लगभग समाप्त हो गया है। योजनाओं में विकास कार्य होंगे तो उससे सभी को लाभ होगा। इसमें आईटी पार्क जैसी योजना भी शामिल है। इससे ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिलेगा। उन्हें दिल्ली या अन्य शहरों की ओर नहीं भागना पड़ेगा।

समाजवादी पार्टी के युवा नेताओं की होड़ में आगे दिखने वाले परविन्दर सिंह से बात चीत के दौरान ‘दैनिक सियासत’ की टीम ने जब समाजवादी पार्टी द्वारा विकास योजनाओं को पलीता लगाने की बात कही गई तो उन्होंने कहा कि यह पार्टी विशेष द्वारा फैलाया जा रहा ‘अतिक्रमण’ है। पार्टी के मुख्यमंत्री युवा और नौजवान हैं, उन्हें देश के युवाओं की फिक्र पहले है, रोजी-रोटी की फिक्र पहले है। समाज को विकास की तरफ ले जाने की फिक्र पहले है। हां जनता को जागरूक रहने की जरूरत है और हर समय अपने हक की मांग के लिये तैयार रहने की भी जरूरत है और देश को आगे बढ़ाने के लिये एकजुट होकर बुराइयों को दरकिनार करने की भी जरूरत है। सोच को संकुचित न करें और मेरठ के सम्पूर्ण विकास में भागीदार बनें। एक-एक बूंद मिलाकर समुद्र बनाने की जरूरत है न कि मौका-परस्त होकर योजनाओं को ‘आगे न बढ़ने देने’ का झूठा दिखावा करने की जरूरत है। बातचीत के दौरान तल्खी और तेवर में दिखने वाले परविन्दर ने बताया कि आने वाले दिनों में समाज की धारा सकरात्मक होगी और हर व्यक्ति पार्टियों के मुखौटे को पहचानकर अपने ‘वोट की चोट’ से उन्हें सबक सिखाने को अब हर युवा तैयार है।

No comments:

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages