'No candle looses its light while lighting up another candle'So Never stop to helping Peoples in your life.

test

Post Top Ad

https://2.bp.blogspot.com/-dN9Drvus_i0/XJXz9DsZ8dI/AAAAAAAAP3Q/UQ9BfKgC_FcbnNNrfWxVJ-D4HqHTHpUAgCLcBGAs/s1600/banner-twitter.jpg

Jul 11, 2013

=> गैंगरेप कर लूट के बाद महिला की गला घोंटकर हत्या

डीआईजी ने दिया 24 घंटे का समय, एसओजी को सौंपी जांच

त्रिनाथ मिश्र।

मेरठ। डेरी संचालक की पत्नी के साथ गैंगरेप व लूट के बाद गला घोंटकर हत्या कर दी गई। वारदात से क्षेत्रा में सनसनी व पुलिस प्रशासन में हडकंप मच गया। मौके पर पहुंचे डीआईजी ने 24 घंटे के अंदर घटना के खुलासे का आश्वासन दिया है।
                खासपुर गांव निवासी नानकचंद त्यागी के पुत्रा विपिन उपर्फ रिंकू की गांव में ही दूध् की डेरी है। ढाई वर्ष पूर्व उसकी शादी थाना सरूरपुर क्षेत्रा के गांव लाहौरगढ़ निवासी विरेन्द्र त्यागी के पुत्री चित्रा के साथ हुई थी। बीती रात बिजली आने पर रिंकू खेतों में पानी देने के लिए जंगल चला गया था। घर पर रिंकू की मां व पत्नी चित्रा और उसका डेढ़ वर्ष का पुत्र तपीश थे। परिवार के बाकी सदस्य घर पर सोए हुए थे। सुबह चार के आस-पास बिजली जाने पर रिंकू घेर में आकर सो गया।
                सुबह पांच के आसपास छत पर सो रही रिंकू की मां सुचित्रा देवी को नीचे सहन में खटपट की आवाज सुनाई दी। जिससे उसकी आंख खुल गई। उन्होंने सोचा की रिंकू आया होगा, लेकिन पांच मिन्ट के बाद तपीश के रोने की आवाज आई। जब वह कापफी देर तक रोता रहा सुचित्रा नीचे आई। नीचे जमीन पर खून देखकर उनके होश उड़ गए और पैरों तले से जमीन सरक गई। जबकि चित्रा नग्नअवस्था में मृत चारपाई पर पड़ी थी। यह देख उनकी चीख निकल गई। शोर सुनकर मोहल्ले के लोग घर पर इकठठे हो गए। सूचना पुलिस को दी गई।
                 घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने जैसे ही शव को कब्जे में लेने का प्रयास किया तो लोगों ने विरोध् करना शुरू कर दिया और पुलिस के आलाअध्किारियों को बुलाने की मांग की। सूचना मिलते ही डीआईजी के. सत्यनारायण, एसएसपी दीपक कुमार, एसपी देहात कैप्टन एमएम बेग, सीओ, एसओ खरखौदा घटनास्थल पहुंचे। मौके पर पफोरेंसिक टीम भी पहुंची और घटनास्थल की छानबीन की। डीआईजी ने परिजनों को आश्वासन दिया कि 24 घंटे के अंदर वारदात का खुलासा कर दिया जायेगा। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। खरखौदा थाने में अज्ञात के खिलापफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। डीआईजी ने एसओजी को जांच सौंपी है।

चित्रा ने किया था संघर्ष:              चित्रा की हत्या लूटपाट के बाद की गई। ऐसा परिजनों ने बताया है। उनका कहना था कि बदमाशों की संख्या आध दर्जन से कम नहीं थी और उसने बदमाशों का विरोध् किया था। सेपफ में रखी ज्वैलरी गायब मिली है और डिब्बे इध्र-उध्र पड़े हुए मिले। चित्रा के शरीर पर खरोंच के निशान भी थे। ऐसा लगता था कि उसने बदमाशों से जमकर संघर्ष किया था।
रात्रि 12 बजे किया था फोन:
             रात्रि 8:00 बिजली आई थी। बिजली आने के बाद रिंकू खेतों पर चला गया था। रात्रि 12 बजे के आसपास चित्रा ने रिंकू को पफोन किया था और पूछा था कि कब तक आओगे। रिंकू ने बिजली चले जाने के बाद आने के लिए कहा था। हालांकि वह सुबह के समय घेर में सो गया था। अनुमान लगाया जा रहा है कि आरोपियों ने ही चित्रा से पफोन करवाया होगा। चित्रा ने आरोपियों को पहचान लिया होगा। तभी दुष्कर्म के बाद उसकी गला घोंटकर हत्या की।
आरोपियों को पूरे घर की थी जानकारी:            रिंकू तीन भाईयों में दूसरे नम्बर पर है। उसका बड़ा भाई ब्रजवाशी ट्रक चालक है और रात्रि में घर पर नहीं था। छोटा भाई नितिन नोएडा में किसी कंपनी में कार्य करता है। जबकि उसके पिता घेर में सोये थे। आरोपियों को पूरी जानकारी थी कि घर पर कौन है। रिंकू के घर से निकलते ही आरोपी घर में घुसे होंगे और चित्रा को कब्जे में ले लिया होगा। हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है। अनुमान है कि आरोपी आसपास के ही है।
एसओ को बताया नकारा:
          दुष्कर्म व हत्या की जानकारी पाकर सपा नेता ओमपाल गुर्जर भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने एसओ खरखौदा का नकारा बताया और उन्हें हटाने की मांग की।
जैसा उसने जमकर संघर्ष किया। 

No comments:

Post Top Ad

Your Ad Spot

Pages